पटवारी कैसे बनें ? योग्यता | सैलरी | सिलेबस | कार्य

पटवारी कैसे बनाएं इसकी पूरी जानकारी स्पेस पर है विद्यार्थी की योग्यता क्या होनी चाहिए परीक्षा में आने वाले विषय कौन से हैं वेतन कितनी मिलती है सैलरी और पटवारी के कार्य

पटवारी ग्रामीण क्षेत्रों का एक राजस्व विभाग का कर्मचारी होता हैं जिसका हमारे जीवन में बहुत ही महत्वपूर्ण काम है यदि हम अपनी भूमि के क्रय विक्रय के बारे में सोचते हैं तो सबसे पहले हमें पटवारी का ही नाम याद आता है।

योग्यता

पटवारी बनने के लिए इससे पहले किसी भी बोर्ड से 12 वी की उत्तीर्ण होना अनिवार्य था पर अब ऐसा नहीं है आज के समय में सभी के पास किसी भी बोर्ड से स्नातक ग्रेजुएशन होना अनिवार्य कर दिया है और साथ ही आपको कंप्यूटर डिप्लोमा यानी कंप्यूटर का बैसिक ज्ञान होना अनिवार्य कर दिया है

यदि आप ग्रेजुएशन कंप्यूटर से करतें है यानी BCA , PGDCA , Bsc IT , B.tech , BBA आदि करतें है तो आपको कंप्यूटर डिप्लोमा की जरूरत नहीं पड़ती है।

वेतन और आयुसीमा

पटवारी की परीक्षा के लिए उम्मीदवार की आयु कम से कम 18 वर्ष और अधिकतम 38 वर्ष होना चाहिए यदि आपका चयन पटवारी के लिए हो जाता है तो सरकार द्वारा इसके लिए आपको जो वेतन देय होगा वो 5200 ₹ से 20200 ₹ तक हो सकता है।

सिलेबस(Syllabus)

पटवारी की परीक्षा के लिए आपका जो Questions पूछें जाएंगे वो इस प्रकार हैं।

इसमें सबसे पहले आपको सामान्य विज्ञान , भारत का भूगोल , भारत का इतिहास , राजनीति शास्त्र , करंट अफेयर्स में 25 प्रश्न आएंगे तथा राजस्थान का भूगोल ,राजस्थान का इतिहास , कला संस्कृति Culture में से 20 प्रश्न और हिन्दी और अंग्रेजी व्याकरण में से 15 प्रश्न तथा तर्कशक्ति रीजनिंग और गणित इनमें से 30 प्रश्न और सबसे अंत मे अपको 10 प्रश्न बैसिक कंप्यूटर के पूछें जाएंगे।

पटवारी के कार्य

  1. पटवारी का ज्यादातर कार्य दो या दो से अधिक गांव की भूमि का लेखाजोखा रखना होता है तथा इन गांव की भूमि कैसी और किस किस्म की है और इन पर कितना लगाम है इन सबका हिसाब पटवारी ही रखता है।
  2. पटवारी को हम लेखपाल भी कहते हैं तथा किस व्यक्ति के पास कितनी भूमि है इसका व्यौरा पटवारी ही रखता है।
  3. पटवारी हमारे सरकार द्वारा चलाये गए किसी भी राष्ट्रीय कार्यक्रमों जैसे कृषि की गणना करना , जनगणना , पशुगणना तथा गांव का सर्वेक्षण करना आदि कार्य करता है।
  4. यदि हम लोगों को किसी भी प्रकार का सर्टिफिकेट बनबाना हो जैसे की आय तथा जाति प्रमाण पत्र , पेंशन वृद्धावस्था , में लोगों का सहयोग करता।
  5. भूमि का एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी में स्थानांतरण यदि करना हो तो उसका कार्य हमारे क्षेत्र का पटवारी ही करता है।

यदि आप पटवारी या लेखपाल बनने का सपना देख रहे हैं तो ये आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है इसके लिए आपको अच्छे से तैयारी करनी होगी और सबसे अच्छी बात आपके लिए ये है कि इसमें सिर्फ एक ही पेपर होता है जो कि Main Exam होता है उसके बाद आपका Selection Merit list के हिसाब से होता है यदि आपकी Merit list अच्छी है तो आपका Selection हो ही जायेगा यह एक बहुत ही अच्छी जॉब है इसका Syllabus बहुत ही सरल और पढ़ने योग्य हैं।

पटवारी की परीक्षा ऑनलाइन होगी इसके लिए आपको Multiple Objective type questions दिए जाएंगे और इसमें 1/3 Negative मार्किंग भी होगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *